Thursday , February 20 2020
Breaking News
होम / राष्ट्रीय / …तो क्या भारत ने गलती से अपने ही हेलिकॉप्टर को मार गिराया था?

…तो क्या भारत ने गलती से अपने ही हेलिकॉप्टर को मार गिराया था?

नई दिल्ली

इंडियन एयर फोर्स का Mi17V5 हेलिकॉप्टर 27 फरवरी को श्रीनगर के नजदीक हासदे का शिकार हो गया था। हादसे में हेलिकॉप्टर पर सवार सभी 6 एयर फोर्स पर्सनेल और जमीन पर एक आम नागरिक की मौत हो गई थी। संयोग से उसी दिन पाकिस्तानी एयर फोर्स ने भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की नाकाम कोशिश की थी। हादसे के करीब एक महीने बाद हमारे सहयोगी अखबार इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट से ऐसे संकेत मिलते हैं कि हेलिकॉप्टर संभवतः भारत द्वारा दागी गई मिसाइल से गिरा था।

हादसे की टाइमिंग
एलओसी पर इंडियन एयर फोर्स के जेट पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों को खदेड़ रहे थे और एयर डिफेंस सिस्टम पूरी तरह ऑपरेशनल अलर्ट पर था। इसके 10 मिनट के भीतर ही हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। उस वक्त एयर फोर्स का कमांड और कंट्रोल सिस्टम ‘युद्ध जैसी स्थिति’ की वजह से बहुत दबाव में था।

रहस्य
पाकिस्तानी सेना ने अपने आधिकारिक बयान में कहा था कि भारतीय हेलिकॉप्टर गिरने के पीछे उसका कोई हाथ नहीं था। हालांकि, पाकिस्तान ने नौशेरा सेक्टर के पास दोनों देशों के बीच हवा में संघर्ष की बात कबूल की थी। Mi17V5 को दुनिया के अति आधुनिक चॉपर्स में से माना जाता है, जो आम तौर पर घातक तकनीकी दिक्कतों का शिकार नहीं होता। चश्मदीदों ने बताया था कि हादसे से पहले उन्होंने हवा में एक तेज धमाके की आवाज सुनी थी, इससे संकेत मिलते हैं कि हेलिकॉप्टर हादसे के लिए कोई तकनीकी वजह नहीं बल्कि कोई बाहरी वजह जिम्मेदार थी। इंडियन एयर फोर्स भी हेलिकॉप्टर हादसे की कड़ी दर कड़ी जांच कर रही है।

वजह?
जांच में पता चला है कि हेलिकॉप्टर हादसे से ठीक पहले एक इंडियन एयर डिफेंस मिसाइल दागी गई थी। दरअसल, 27 फरवरी को एयर डिफेंस सिस्टम ने सीमा के नजदीक पाकिस्तानी एयर फोर्स के 25 जेट को डिटेक्ट किया था, जिसके बाद मिसाइल को ऐक्टिवेट किया गया था। माना जा रहा है कि वह इजरायली मिसाइल थी। अगर अंतिम जांच रिपोर्ट में भी गलती से अपने ही हेलिकॉप्टर को निशाना बनाने की बात सामने आती है तो एयर डिफेंस सिस्टम में सुधार की दरकार होती है।

About whpindia

इसे भी पढ़ें

कोटा: ढाई लाख लोगों के साथ योग कर बाबा रामदेव ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

आज चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर देशभर में बड़ी संख्या में योगाभ्यास कार्यक्रम …