Thursday , April 26 2018
Breaking News
होम / अंतरराष्ट्रीय / चीन के मिसाइल मैन वेई फेंग बने नए रक्षा मंत्री

चीन के मिसाइल मैन वेई फेंग बने नए रक्षा मंत्री

पेइचिंग

चीन ने सोमवार को पूर्व मिसाइल यूनिट कमांडर को नया रक्षा मंत्री नियुक्त किया है। खास बात यह है कि उनकी अगली मेहमान और कोई नहीं बल्कि भारतीय समकक्ष निर्मला सीतारमण हो सकती हैं। 63 वर्षीय लेफ्टिनेंट जनरल वेई फेंग चीन की मिसाइल यूनिट के दो हिस्सों में बंटने से पहले आखिरी कमांडर थे। अब यह यूनिट PLA रॉकेट फोर्स और स्ट्रैटजिक सपॉर्ट फोर्स में बंट गई है।

वेई फेंग को चीन की संसद यानी नैशनल पीपल्स कांग्रेस (NPC) ने रक्षा मंत्री पद के लिए चुना है। भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में घोषणा की थी कि वह अगले महीने चीन का दौरा करने वाली हैं, जो कि बीते साल 73 दिनों तक चले डोकलाम विवाद के बाद किसी चीन में किसी भी भारतीय शीर्ष नेता का पहला दौरा होगा। यह घोषणा ऐसे समय में की गई है जब दोनों देशों की ओर से उच्च स्तरीय बैठकों सहित कूटनीतिक प्रयासों के जरिए संबंधों को सकारात्मकस्तर पर लाने की कोशिश की जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शंघाई सहयोग संगठन( एससीओ) शिखर सम्मेलन में शिरकत करने की भी संभावना है, जो चीन के चिंगदाओ शहर में जून में होगा।

चीन में सेना सेंट्रल मिलिटरी कमिशन (CMC) के अधीन काम करती है, जिसके मुखिया शी चिनफिंग हैं। रविवार को NPC ने शी के करीबी दो जनरल झू किलियांग और झांग योकशिया को CMC का वाइस चेयरमेन बनाया था।

जनरल वेई ने शी द्वारा 23 लाख जवानों वाली मजबूत चीनी सेना में उलट-फेर का समर्थन किया था। साल 2013 में राष्ट्रपति पद पर आसीन होने के बाद ही शी ने देश की सेना के ढांचे को पूरी तरह बदलना शुरू कर दिया था। इसी साल चीन ने अपना रक्षा बजट बढ़ाकर 175 अरब डॉलर कर दिया है जो भारत के रक्षा बजट की तुलना में तीन गुना ज्यादा है। चीन ने अपने रक्षा बजट में बीते साल की तुलना में 8.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। हॉन्ग कॉन्ग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने हाल ही में एक रिपोर्ट के जरिए बताया था कि जनरल वेई न सिर्फ बड़े सैन्य बदलावों के लिए शी को समर्थन का वादा करने वाले PLA के पहले डिपार्टमेंट हेड थे बल्कि वे लगातार शी से मुलाकात करने वालों में भी शामिल थे।

वेई सन् 1970 में तोपखाने के दस्ते से जुड़े थे जब वह सिर्फ 16 साल के थे। इसके बाद उन्हें रॉकेट इंजिनियरिंग सिखाने के लिए साइंस, टेक्नॉलजी ऐंड इंडस्ट्री फॉर नैशनल डिफेंस के अधीन आने वाले मिसाइल स्कूल भेजा गया था। वेई ही वह पहले शख्स थे जिन्होंने राष्ट्रपति शी द्वारा सैन्य बदलावों की घोषणा किए जाने से पहले ही उनका समर्थन किया था।

दोस्तों के साथ शेयर करे.....

About Yogendra Mishra

इसे भी पढ़ें

पाक में सिख महिला की शादी, 30 दिन में फैसला

इस्लामाबाद पाकिस्तान की एक कोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया है कि इस्लाम अपनाकर मुस्लिम …