डिफेंस में जाने के लिए क्या क्या करना पड़ता है? | Army Kaise Join Kare

12वीं का एग्जाम पास करने के बाद यूपीएससी का एग्जाम दे सकते हैं। चुने हुए उम्मीदवारों को सर्विसिज सिलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) का पांच दिन चलने वाला इंटरव्यू देना होता है। इसमें फिजिकल और मेडिकल टेस्ट कराया जाता है। पास होने वाले कैडेट्स को आर्मी, नेवी या एयरफोर्स में से चुनना होता है।

Jan 21, 2024 - 21:00
 0  71
डिफेंस में जाने के लिए क्या क्या करना पड़ता है? | Army Kaise Join Kare

Army Kaise Join Kare: भारतीय सेना कैसे ज्वाइन करें

अगर आपका सपना इंडियन आर्मी में जाने का है तो इसके लिए आपको बहुत ही अच्छी तैयारी करने की जरूरत है क्योकि जब भी इसकी भर्ती आती हैं तो लाखो लोग आर्मी जॉइन करने के लिए आवेदन करते हैं। इसके कारण कम्पटीशन बहुत बढ़ जाता हैं और आपको बहुत ही अच्छी तैयारी की जरूरत होगी तभी आप इसमें नौकरी प्राप्त कर पाएंगे। इसके लिए आपको सबसे ज्यादा खुद को फिजिकली फिट रखना है। आर्मी में नौकरी करने के लिए आपको शारीरिक व मानसिक रूप से फिट होना बहुत जरूरी हैं। इसके अलावा भी कुछ महत्वपूर्ण चीजें हैं जिसके बारे में हम आज के ब्लॉग Army Kaise Join Kare मे जानेंगे।

आर्मी क्या है? 

आर्मी, यह शब्द सुनते ही हम सब भारतीयों के अंदर आत्मविश्वाश जग उठता है और हम सबका सीना गर्व से चौडा हो जाता है। आर्मी का नाम सुनते ही अपने आप जोश आने लगता है और देशभक्ति की भावना जागृत हो जाती है। भारतीय सेना (Indian Army kaise join kare) आज दुनिया की अग्रणी सेनाओ में से एक है। भारतीय सेना दिन-रात बॉर्डर पर खड़े रह कर देश की  और देशवासियों की रक्षा करते है। 

आर्मी का अर्थ

सेना को अंग्रेजी में आर्मी कहा जाता है। आर्मी शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के ‘Armata’ से हुई है जिसका अर्थ आर्म्ड फोर्स होता है। यह ऐसी फौज होती है जो देश की सेवा करती है। आर्मी एक आर्गनाइज्ड फाॅर्स होती है जो जमीन पर रह कर देश  की रक्षा के लिए दुश्मनो से लड़ती है।

आर्मी की फुल फॉर्म

ARMY का फुल फॉर्म “Alert Regular Mobility Young” है, जिसका अर्थ युवाओ की ऐसी फौज जो हर हरकत पर नजर रखते है। आर्मी भूमि की एक शांति शाखा होती है जो कि अपने अंदर कई शाखाओ को मिला सकता है। इसके अंदर वायु सेना भी शामिल होती है। 

  • दुनिया में सबसे बड़ी आर्मी सेना चीन के पास है इसके बाद दुनिया कि दूसरी सबसे बड़ी सेना भारत के पास है जिसमें 11,29,000 सक्रिय सैनिक तो वहीँ 9,60,000 रिसर्व सैनिको की फौज है। 

भारतीय सेना मे कैसे जाएं?

हजारो स्टूडेंट आर्मी में नौकरी करने का सपना देखते है। पर क्या आर्मी में जाना इतना सरल है? इसका जवाब हर किसी को न ही मिलेगा और इसकी वजह है प्रतियोगिता क्योंकि 100 पदों के लिए लाखो लोग आवेदन करते है। विश्व में सेना भर्ती के लिए सबसे अधिक भारतीय युवाओं की रूचि होती है और सभी भारतीय युवाओ की पहली पसंद सरकारी नौकरी होती है जिससे कि वो देश की सेवा कर सके। अगर आप भारतीय सेना में भर्ती होना चाहते है तो आपके लिए भारतीय सेना के शारीरिक मापदंड के साथ साथ शैक्षणिक योग्यता को पूरा करना जरूरी हैं। भारतीय सेना में जाने के लिए उम्मीदवार को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होना बहुत जरूरी होता है। 

आइये अब जानते हैं कि आप आर्मी में जाने के लिए क्या तैयारी कर सकते हैं-

  • आप आर्मी में जिस पद के लिए आवेदन करना चाहते है उसकी सारी इनफार्मेशन हासिल करें जैसे उस पद को प्राप्त करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ? कौन सा एग्जाम पास करना होता है। 

  • आपको आर्मी के परीक्षा पैटर्न को समझना होगा कि परीक्षा कैसे होती है तथा आर्मी परीक्षा के पुराने प्रश्न पत्र को जमा कर सॉल्व करे। 

  • आप किसी ऐसे व्यक्ति से भी जानकारी ले सकते हैं जिसने आर्मी परीक्षा पास की है और उनसे परीक्षा में पास होने के लिए तैयारी तथा प्रश्न पैटर्न जानने की कोशिश करें। 

  • अपनी जीके को मजबूत रखे क्योंकि एयरफोर्स का एग्जाम हो या फिर आर्मी का एग्जाम या आईएएस  का हो, इन सभी एग्जाम में सबसे ज्यादा प्रश्न जीके के ही पूछे जाते है।

10वीं के बाद आर्मी कैसे जॉइन करें?

10वीं कक्षा के बाद भी आर्मी में जाने का अपना सपना पूरा कर सकते हैं पर 10वीं कक्षा की योग्यता के साथ आप ऑफिसर रैंक के किसी भी पद के योग्य नहीं होते। 10वीं कक्षा के बाद उम्मीदवार दो पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं – 

  • सोल्जर (जनरल ड्यूटी) और 
  • सोल्जर (ट्रेड्समेन)। 

इन दोनों ही पदों के लिए चुने जाने के बाद उम्मीदवारों को सिपाही की रैंक दी जाती है। 

  1. सोल्जर (जनरल ड्यूटी):

सोल्जर भारतीय सेना की रीढ़ होती है जिसमे सैनिक आर्म्स व सर्विसेज से चुने जाते हैं। 

आर्म्स:– आर्म्स के अंतर्गत इन्फैंट्री, आर्टिलरी, आर्मर्ड कॉर्प्स, इंजीनियर्स या आर्मी एयर डिफेंस (एएडी) सैनिकों, ड्राइवरों, ऑपरेटरों, बंदूकधारियों के रूप में आर्मी में अपनी सेवा दे सकते हैं।

सर्विसेज:– सर्विसेज सेवाओं में आपको जनरल ड्यूटी, ऑपरेटर, ड्राइवर आदि पर सेना सेवा कोर (एएससी), सेना आयुध कोर (एओसी), सेना चिकित्सा कोर (एएमसी) में नामांकित किया जा सकता है।

  1. सोल्जर (ट्रेड्समेन): 

यह एक ऐसे समाज की तरह है जो पूरी तरह से आत्मनिर्भर है। प्रत्येक इकाई में 600-1000 कर्मचारी होते हैं जो एक परिसर में रहते हैं और उस परिसर / समाज से सभी सहायता प्राप्त करते हैं। इस प्रकार प्रत्येक यूनिट का अपना कुक हाउस, स्टोर, लिविंग क्वार्टर और लाइनें, कार्यालय, वाहन और उपकरण हैं। इस प्रकार विभिन्न संस्थानों को चलाने और इकाई क्षेत्र को बनाए रखने के लिए बहुत सारे सहायक कर्मचारियों की आवश्यकता है। 

पात्रता मापदंड

  • सोल्जर (जनरल ड्यूटी) के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को 10वी में कम से कम 45% अंक होने चाहिए।

  • हर एक विषय में 33% अंक होने अनिवार्य हैं।

  • उम्मीदवारों की आयु साढ़े 17 वर्ष से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

  • सोल्जर (ट्रेड्समेन) के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को 10वी उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

  • उनके लिए अंकों की कोई सीमा तय नहीं की गयी है।

  • उम्मीदवारों की आयु साढ़े 17 वर्ष से 23 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

  • सोल्जर (जनरल ड्यूटी) और सोल्जर (ट्रेड्समेन) के लिए तय किये गए सभी फिजिकल मापदंडों को पूरा करना अनिवार्य है।

  • इसके साथ ही सभी मेडिकल मापदंडों को भी पूरा करना अनिवार्य है।

12वीं के बाद आर्मी कैसे जॉइन करें?

12वी के बाद आर्मी में जुड़ने के बहुत से ऑप्शन है। बहुत सी ऐसी परीक्षाएं होती है जिसे देकर आप सीधे ही आर्मी ज्वाइन कर सकते है, कुछ पोस्ट ऐसी भी होती है जिसमे आपको न कोई लिखित परीक्षा देने की जरूरत है बल्कि फिजिकल टेस्ट के बाद आपको सीधे इंटरव्यू के लिए बुला लिया जाता है| 

चलिए अब सीधे वहीं तरीके के बारे में जानते है जिसकी मदद से आप सीधे 12th बाद आर्मी जॉइन कर सकते है और अपना करियर बना सकते हैं-

  • NDA Exam (National Defense Academy)

  • TES Entry (Technical Entry Scheme)

  • NCC Special Entry

NDA (National Defense Academy) Exam

 
यदि कोई स्टूडेंट 12वीं के बाद आर्मी जॉइन करना चाहता है तो वे NDA एग्जाम की तैयारी कर सकते है। आइए इस परीक्षा के लिए सिलेक्शन प्रोसेस, योग्यता, आयु सीमा आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करते है- 

  • यदि कोई स्टूडेंट NDA की परीक्षा देना चाहता है तो उसको 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ विषय के साथ बोर्ड परीक्षा 60% मार्क्स के साथ पास होना जरूरी है।

  • जो कैंडिडेट NDA परीक्षा देना चाहते है उनकी उम्र 16.5 से 20 साल के बीच में होनी चाहिए तथा इस परीक्षा में किसी भी जाति या धर्म के लिए उम्र में कोई छूट नहीं दी गई है। अत: सभी कैटेगरी के लिए यह आयु सीमा समान है।

  • उम्मीदवार की ऊंचाई 157 सेमी या उससे अधिक और छाती की चौड़ाई 5 सेमी या उससे अधिक होना चाहिए। उम्मीदवार को घुटने की समस्या नहीं होनी चाहिए और आपकी कोहनी बाहरी दिशा में 15 डिग्री से अधिक नहीं मुड़नी चाहिए।

TES Entry (Technical Entry Scheme)-

यदि आप भारतीय सेना के तकनीकी क्षेत्र में पोस्ट के लिए आवेदन करते हैं तो आपको आवेदन करने के लिए, इसके लिए आवश्यक शैक्षणिक योग्यता और शारीरिक योग्यता के बारे में जानकारी होनी चाहिये-

  • इसके लिए केवल वही उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं जिनके पास 10वीं और 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ विषय है। और आपको न्यूनतम 70% मार्क्स के साथ 12वीं कक्षा पास करना जरूरी हैै। साथ ही उम्मीदवार को Jee Main परीक्षा देना जरूरी हैै।

  • इसके लिए भी आयु सीमा NDA परीक्षा के जैसी ही है। इस परीक्षा के लिए भी उम्मीदवार की उम्र कम से कम 16 साल और ज्यादा से ज्यादा 20 साल के बीच में होनी चाहिए। 

  • उम्मीदवारों का सिलेक्शन उनकी योग्यता के आधार पर किया जाता है। 

  • अप्लाई करने के बाद, भारतीय सेना की टीम बोर्डों में आपके 12वीं के अंकों के अनुसार कट ऑफ घोषित करती है। 

  • शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है । 

NCC Special Entry

वे उम्मीदवार, जिन्होंने अपने स्कूल में NCC जूनियर विंग किया है। सिर्फ वही लोग इस पोस्ट के लिए पात्र हैं। इस पोस्ट के लिए भी विभिन्न योग्यता को पूरा करना होता है-

  • इस पोस्ट के लिए उम्मीदवार को किसी भी स्ट्रीम में कम से कम 55% मार्क्स के साथ 12वीं कक्षा को पास किया होना चाहिए।

  • एक उम्मीदवार के पास न्यूनतम “बी” ग्रेड के साथ एनसीसी “सी” प्रमाण पत्र होना चाहिए।

  • उम्मीदवार की आयु 16.5 वर्ष से 19 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

योग्यता

शैक्षणिक योग्यता

आर्मी में भर्ती होने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विधालय से 10th या 12th पास होना अनिवार्य हैं तभी आप इसमें आवेदन कर सकते है। 

आर्मी के लिए आयु सीमा

भारतीय सेना मे आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की न्युनतम उम्र 17 ½ वर्ष व अधिकतम उम्र 21 वर्ष (सैनिक पद के लिए) होनी चाहिए जबकि अन्य पदो के लिए 23 वर्ष होना अनिवार्य हैं। 

भारतीय सेना के लिए शारिरिक योग्यता

Army Kaise Join Kare करने के लिए आपका शारीरिक योग्यता को पूरा करना बहुत जरूरी हैं क्योंकि अगर कोई उम्मीदवार इसमें अयोग्य होता हैं तो भर्ती प्रक्रिया से बाहर किया जा सकता हैं उसके बाद आप नयी भर्ती आने पर ही वापिस आवेदन कर पाएंगे। इसके साथ ही जो व्यक्ति आर्मी भर्ती के लिए आवेदन कर रहे हैं उनके शरीर में किसी प्रकार का कोई फैक्चर नही होना चाहिए। 

  • लम्बाई – 170 cm

  • वजन – 50 Kg

  • आँखें – 6/6

सिलेक्शन प्रोसेस

भारतीय सेना की चयन प्रक्रिया निम्नलिखित तीन चरणों में पूरी होती है जिसमें 

  • फिजिकल टेस्ट 

  • लिखित टेस्ट और 

  • मेडिकल टेस्ट शामिल होते हैं। 

अब हम इन तीनों प्रोसेस के बारे में एक एक करके विस्तार से जानेंगे तो आईए जानते है कि आर्मी में जाने के लिए सिलेक्शन प्रोसेस क्या होता है-

1.फिजिकल टेस्ट:

भारतीय सेना मे‌ आवेदन करने के बाद सबसे पहले उम्मीदवारों का फिजिकल टेस्ट लिया जाता हैं जिसमे उम्मीदवारों को लम्बी कूद, ऊँची कूद, दौड़, थ्रो आदि कई टेस्ट लिए जाते हैं व सभी टेस्ट के नम्बर अलग-अलग दिए जाते हैं। उम्मीदवार द्वारा किए गए प्रदर्शन के अनुसार ही उसे नंबर दिए जाते हैं। 

वहीं उम्मीदवारों को‌ 1.6 KM दौड़ 5 मिनिट 41 सेकेंड मे पूरी करनी होती है। 

2. मेडिकल टेस्ट:

फिजिकल टेस्ट मे उतीर्ण हुए उम्मीदवारों को अगले चरण मेडिकल टेस्ट के लिए चुना जाता हैं इसमे उम्मीदवारों की आँखों की जाँच मुख्य होती हैं। इसके साथ कान, आवाज, ब्लड ग्रुप व‌ अन्य कई जाँच की जाती है। उम्मीदवारों के शरीर मे‌ यदि कोई भी फेक्चर पाया जाता है‌ तो उस उम्मीदवार को भारतीय सेना मे भर्ती नही किया जाता। 

3. लिखित परीक्षा:

यह भारतीय सेना भर्ती का अंतिम चरण होता हैं दोनो चरणो मे उतीर्ण उम्मीदवारों की लिखित परीक्षा ली जाती हैं जो की 100 अंक का होता हैं जिसके लिए कैंडिडेट को 1 घंटे का समय दिया जाता हैं।

इंडियन आर्मी में भर्ती की आम प्रक्रिया

इंडियन आर्मी में भर्ती के लिए सामान्यतः नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन किया जाता है।

  • सबसे पहले उम्मीदवारों को मापदंडों के अनुसार आधिकारिक वेबसाइट joinindianarmy.nic.in पर जाकर आवेदन करना होता है।

  • इसके बाद आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के दस्तावेजों की जाँच की जाती है।

  • इसके बाद फिजिकल फिटनेस टेस्ट का आयोजन किया जाता है।

  • इस टेस्ट को पास करने के बाद फिजिकल मेज़रमेंट टेस्ट ली जाती है।

  • इसमें उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को मेडिकल एग्जामिनेशन के लिए बुलाया जाता है।

  • मेडिकल एग्जामिनेशन के बाद उम्मीदवारों की लिखित परीक्षा ली जाती है।

  • सभी चरणों को पूरा करने के बाद चुने हुए उम्मीदवारों की मेरिट लिस्ट बनायीं जाती है और उनमें शस्त्र और सेवाएं अलॉट कर दिए जाते हैं।

  • इसके बाद प्रशिक्षण केंद्रों के लिए चुने गए उम्मीदवारों का नामांकन कर लिया जाता है और उन्हें अपने केंद्रों में रिपोर्ट करने के लिए भेज दिया जाता है।

इंडियन आर्मी में सीधी भर्ती

सेना में सीधी भर्ती, संबंधित रेजिमेंट / कोर प्रशिक्षण, केंद्रों के माध्यम से नीचे दिए गए उम्मीदवारों को सैनिक ड्यूटी के रूप में प्रदान किया जाता है :

  • उम्मीदवार युद्ध में शहीद का एक बेटा हो।

  • उम्मीदवार युद्ध में शहीद का एक वास्तविक भाई हो, जब मृतक अविवाहित था / या जिसका एक पुरुष बच्चा नहीं था।

  • उम्मीदवार युद्ध में शहीद के एक असली भाई जिसने शहीद के विधवा से शादी की हो और जिसका किसी भी तरह का बच्चा नहीं है।

  • युद्ध में शहीद के एक असली भाई ने बशर्ते वह मृत विधवा से शादी कर लेता है जिसके एक पुरुष बच्चा है, लेकिन जिसकी नामांकन के लिए उचित आयु नहीं हुई है।

  • उम्मीदवार बैटल कैजुअल्टी का एक असली बेटा हो जब बैटल कैजुअल्टी को मेडिकल ग्राउंड पर सेवा से बाहर कर दिया गया है।

इंडियन आर्मी की सैलरी

भारतीय सेना के जवान का मासिक वेतमान 5,200/- रुपये से लेकर 20,200/- रुपये तक का होता हैं। सभी पदो के लिए अलग अलग वेतमान निर्धारित किया गया हैं इसके साथ ही इंडियन को अन्य कई प्रकार की सुविधाएं भी प्रदान की जाती है। 

पद (Post)

वेतन ( Salary) 

कैप्टन

60,000

रिक्रूटर

25,000

क्लर्क

21,000

नर्स

20,000

कंप्यूटर ओपरेटर

30,000

टेक्निकल असिस्टेंट

28,000

ऑफिस वर्कर

15,000

इलेक्ट्रॉनिक / इंस्ट्रुमेंटेशन इंजीनियर

21,000

FAQ

आर्मी की नौकरी कितने साल की होती है?

सेना के अधिकारी कर्नल 54 साल में, ब्रिगेडियर 56 साल में, मेजर जनरल 58 तथा लेफ्टिनेंट जनरल 60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होते हैं, लेकिन अभी 19 साल की सेवा के बाद जवानों को सेवानिवृत्ति मिलती है।

आर्मी में लड़कियों का मेडिकल कैसे होता है?

1.अभ्यर्थी गर्भवती नहीं होनी चाहिए। यह जानकारी अभ्यर्थी को खुद देनी होगी।
2. सामान्य मेडिकल जांच एक जैसी होगी, परंतु महिला कर्मचारी की उपस्थिति में होगी।
3. महिला विशेषज्ञ ऑफिसर ही प्रसूति व प्राइवेट अंगोंं की जांच करेगी।
4. अल्ट्रासाउंड हर महिला अभ्यर्थी का होगा, जिसमें पेट और गर्भ इत्यादि की जांच होगी।
5. इन हिदायतों का ज्यादा से ज्यादा प्रचार हो। सभी मेडिकल ऑफिसरों को इन बिंदुओं
पर संवेदनशील बनाया जाए।

आर्मी फिजिकल टेस्ट में क्या क्या होता है?

भर्ती रैली में उम्मीदवारों को सबसे पहले शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। जिसमें उम्मीदवारों को 1.6 किलोमीट की दौड़ 5 मिनट 30 सेकेंड में पूरी करनी होती है। इसमें सफल होने वाले अभ्यर्थियों को बैलेनसिंग, 10 पुलअप्स व 9 फीट की लॉन्ग जंप से भी होकर गुजरना होता है।

इस आर्टिकल में हमने आपको Army kaise join kare और आर्मी का selection process किस प्रकार से होता है के बारे में विस्तार से बताया है। ऐसे ही अन्य हिंदी ब्लॉग  के लिए बने रहें हमारी वेबसाइट eKhabari पर।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Shiva Ajith Yadav Founder of "eKhabari"